नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलिया के महान गेंदबाज शेन वॉर्न की हाल ही में मौत हो गई थी. वॉर्न अभी सिर्फ 52 ही साल के थे. पहली जब जांच की गई तो ये सामने आया था कि वॉर्न की मौत हार्ट अटैक से हुई थी.

लेकिन हाल ही में थाईलैंड पुलिस की रिपोर्ट में पाया गया कि वॉर्न के कमरे में खून के भी कुछ धब्बे मिले हैं, इसके बाद और अधिक कयास आराइयां की जाने लगीं . अब जब वॉर्न की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आई है तो उसमें और बड़ा खुलासा हुआ है.

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सनसनीखेज खुलासा

थाईलैंड पुलिस ने सोमवार को कहा कि आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर शेन वॉर्न की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक उनकी मौत प्राकृतिक कारणों से हुई है.

राष्ट्रीय पुलिस के उप प्रवक्ता किसाना पाथनाचारोन द्वारा जारी बयान में कहा गया कि पोस्टमार्टम करने वाले डाक्टर की रिपोर्ट वॉर्न के परिवार और आस्ट्रेलियाई दूतावास के हवाले कर दी गई है. इसमें कहा गया कि वॉर्न के परिवार को इसमें कोई शक नहीं था कि उनकी मौत प्राकृतिक कारणों से हुई है.

पहले हार्ट अटैक थी वजह

बयान में मौत के कारणों का खुलासा नहीं किया गया है. प्रारंभिक जांच से पता चला है कि उन्हें दिल का दौरा पड़ा था. वॉर्न थाईलैंड के कोह समुई द्वीप पर अपने होटल के कमरे में गिरे हुए पाए गए थे. अस्पताल ले जाने पर भी उनकी जान नहीं बचाई जा सकी.

पुलिस ने बयान में कहा कि पोस्टमार्टम जांच की रिपोर्ट अभियोजक कार्यालय में भेज दी जाएगी जो अप्रत्याशित मौत के सिलसिले में आम प्रक्रिया है. वॉर्न के परिवार ने सोमवार को जारी बयान में कहा कि उनकी मौत परिवार के लिए कभी न समाप्त होने वाले बुरे सपने की शुरुआत है.

दुख में परिवार

उनके पिता कीथ और मां ब्रिजिट ने लिखा, ‘शेन के बिना भविष्य की कल्पना भी नहीं की जा सकती. उसके साथ असंख्य सुखद यादों से शायद हमें इस दुख की घड़ी से नेजात पा सकें .

’ उन्होंने कहा कि परिवार ने राजकीय सम्मान के साथ उनके अंतिम संस्कार का अनुरोध मान लिया है. उन्होंने कहा, ‘सभी को पता है कि शेन को विक्टोरियाई और ऑस्ट्रेलियाई होने पर कितना गर्व था.’

वॉर्न के बेटे जैकसन ने लिखा, ‘मुझे नहीं लगता कि आपके जाने से मेरे दिल जो छलनी हुआ है, उसे कोई भी कभी भर सकेगा. आप सबसे अच्छे पिता और दोस्त थे.’ अभी यह सूचना नहीं मिली है कि वॉर्न की पार्थिव देह को ऑस्ट्रेलिया कब भेजा जाएगा.

Leave a comment

Your email address will not be published.