नई दिल्ली: आईपीएल 2022 शुरू होने में अब बस कुछ ही समय बचा हुआ है. सभी टीमों ने इसके लिए अपनी तैयारियां पूरी कर ली हैं. बीसीसीआई भी इस बार फुल एक्शन में है और टूर्नामेंट में कोई कमी नहीं छोड़ना चाहती है.छोटी छोटी चीजों पर नजर बनाए हुई है।

इन सब के बीच एक बड़ी जानकारी सामने आ रही है. खिलाड़ियों की सुरक्षा को देखते हुए बीसीबीआई ने आईपीएल बायो-बबल के लिए कड़े नियम बनाए हैं. आईपीएल के दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने पर खिलाड़ियों को कड़े प्रतिबंधों का सामना करना पड़ सकता है. इस बार बायो-बबल के नियम पहले से ज्यादा स्टिक होंगे.

खिलाड़ियों के लिए बायो-बबल के नियम

बीसीसीआई ने पिछले साल हुई गलतियों से सबक लिया है.आईपीएल 2021 में तीन टीमों द्वारा बायो-बबल तोड़ने की वजह से टूर्नामेंट को बीच में रोका गया था, लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा. आईपीएल 2022 में पहली बार बायो-बबल तोड़ने पर उस खिलाड़ी को 7 दिन के लिए क्वारंटीन होना पड़ेगा.

दूसरी बार बबल तोड़ने पर 7 दिन के लिए क्वारंटीन के अलावा एक मैच का प्रतिबंध लगेगा और उस मैच के लिए पैसे नहीं मिलेंगे जिनमें वे शामिल नहीं हो पाएंगे. तीसरी बार बबल तोड़ने पर पूरे सीजन के लिए टूर्नामेंट से बाहर और फ्रेंचाइजी को उस प्लेयर के बदले दूसरा खिलाड़ी नहीं मिलेगा.

ऐसा करने पर लगेगा 1 करोड़ का जुर्माना

बीसीबीआई ने आईपीएल बायो-बबल के लिए कड़े नियम खिलाड़ियों के साथ-साथ फ्रेंचाइजियों के लिए भी बनाए हैं.

आप को बताते चलें कि अगर आईपीएल के दौरान कोई भी फ्रेंचाइजी किसी बाहरी व्यक्ति को बबल में लाती है तो फ्रेंचाइजी को एक करोड़ रुपये जुर्माने के तौर पर देने होंगे. दूसरी बार ऐसी गलती करने पर फ्रेंचाइजी के एक अंक और तीसरी बार गलती होने पर दो अंक कांट लिए जाएंगे.

कोविड टेस्ट ना कराना भी पड़ेगा भारी

बीसीसीआई ने कोविड टेस्ट पर भी ध्यान दिया है. कोविड टेस्ट के लिए भी अलग से नियम बनाए गए हैं. किसी भी टीम का कोई भी सदस्य अगर कोविड टेस्ट नहीं कराता है तो पहली बार उसे वार्निंग दी जाएगी, दूसरी बार बीसीसीआई 75 हजार रुपये का जुर्माना लगाएगी और स्टेडियम या ट्रेनिंग ग्राउंड में जाने पर रोक लगाया जाएगा.

क्रिकबज्ज के हवाले से BCCI के अधिकारी ने कहा कि, ‘कोविड-19 महामारी लोगों के स्वास्थ्य के लिए बेहद गंभीर खतरा है और सुरक्षित वातावरण प्रदान करने के लिए किए गए उपायों के लिए इन नियमों के प्रति हर किसी का सहयोग, प्रतिबद्धता और पालन सर्वोपरि है.’

परिवार के लोगों के लिए नियम भी नियम

आईपीएल 2022 में पहली बार बायो-बबल तोड़ने पर सात दिन के लिए क्वारंटीन किया जाएगा और परिवार से संबंधित खिलाड़ी को भी 7 दिन के लिए क्वारंटीन होना होगा,

दूसरी बार ऐसा करने पर परिवार के उस सदस्य को आईपीएल के बायो-बबल से पूरे सीजन के लिए बाहर का रास्ता दिखा दिया जाएगा और संबंधित खिलाड़ी को फिर से सात दिन के लिए क्वारंटीन होना होगा.

Leave a comment

Your email address will not be published.