जानें कौन है देश के इतिहास में फांसी पाने वाली पहली महिला शबनम अली और क्या है उसका गुनाह ?

Advertisements

Know who is the first woman to be hanged in the country's history and what is her crime?
Know who is the first woman to be hanged in the country's history and what is her crime?

Shabnam Ali: 14 अप्रेल 2008 की वो अंधेरी रात आज भी उत्तरप्रदेश में अमरोहा जिले के बावनखेड़ी
गांव के हर व्यक्ति के जहन में रहती है। इस दिन शबनम नाम की एक महिला ने अपने परिवार के 7 लोगों की हत्या कर दी थी। इस हत्या की मुख्य आरोपी शबनम अली (Shabnam Ali) इस सामुहिक हत्या कांड के 13 साल बाद एक बार फिर से चर्चाओं में है। शबनम फिलहाल मपुर जेल में आखिरी सांसें पूरी कर रही है। उसकी दया याचिका राष्ट्रपति रामनाम कोविंद ने खारिज कर दी है और उसे जल्द ही फांसी दी जा सकती है। अगर शबनम को फांसी दी जाती है तो वह आजाद भारत में फांसी पाने वाली पहली महिला बन जाएगी।

क्या है बावनखेड़ी कांड जिसके लिए लिए शबनम को दी जा रही है फांसी ?

ये हत्या इतनी बेरहमी से की गई थी कि इसके बारें में सोच कर ही रुंह कांप जाती है। शबनम नें अपने प्रेमी के साथ मिलकर कुलहाड़ी से अपने ही परिवार के सदस्यों का कत्ल कर दिया था। शबनम ने ये कत्ल तब किये जब उसके घरवाले सो रहे थे। शबनम और सलीम दोनो को फांसी की सजा हो चुकी है। राष्ट्रपति के यहां से दया याचिका भी खारिज कर दी गई है। अब फांसी का इंतजार किया जा रहा है। शबनम को करीब दो साल पहले रामपुर जेल में शिफ्ट कर दिया गया था। तब से वह रामपुर जेल में ही बंद है, जबकि उसका प्रेमी आगरा की जेल में है।

इस जेल में हो सकती है शबनम को फांसी

देश में फांसी पाने वाली पहली महिला शबमन अली फिलहाल रामपुर जेल में है लेकिन वहां पर फांसी की व्यवस्था नही है। शबनम को फांसी देश की इकलौती महिला फांसी के लिए निर्मित मथुरा जेल में फांसी दी जा सकती है। क्योंकि मथुरा जेल में ही महिला को फांसी देने के लिए विशेष सुविधा है। इस जेल को 150 साल पहले बनाया गया था लेकिन अभी तक इस जेल में किसी भी महिला कैदी को फांसी की सजा नही दी गई है। हालांकि अभी तक शबनम को फांसी देने को लेकर मथुरा जेल से कोई आधिकारिक बयान नही आया है लेकिन सुत्रों से यह पता चला है कि तैयारियां शुरू हो चुकी है।

Advertisements

Be the first to comment

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.